Shala Darpan क्या है What is Shala Darpan in हिंदी

चीन काल के बारे में सुना होगा तो आपने देखा होगा कि पहले विधार्थी शिक्षा ग्रहण करने के लिये गुरु के    पास आश्रम में जाते थे, वे वाही शिक्षा ग्रहण कर, गुरु की सेवा और गुरु का कार्य करते और फिर उनके पास में ही जीवन यापन करते थे ! उसके बाद धीरे-धीरे विधालय क निर्माण हुआ ! उसमे बच्चे विधालय जाते थे, और विधालय में आने वाले बच्चो की उपस्थिति अध्यापक लेते थे, फिर विधार्थियों के माता-पिता व अभिभावक विधालय आकर उनकी उपस्थिति जाँच करते थे ! जो एक Offline साधन था ! तो उस समय में सभी काम Offline होते थे ! तो ऐसी बहुत सी बाते है जो जिनसे Offline काम करते करते अध्यापक परेशान हो जाता था ,वो इन कामो से फ्री नही हो पाता था, और स्कूल से संबंधित कोई काम आने पर उसे बार बार बाहर जाना पड़ता था और वे इससे बच्चो के साथ नही घुल – मिल पाते थे और उनका पढ़ाने का पीरियड अधुरा रह जाता था ! यह समस्या विधालय में एक अध्यापक हो तो बहुत बाधा बन जाती थी ! इसलिए वर्तमान समय में यह सब कुछ बदल गया है ! आज का दौर बिल्कुल बदल गया है ! क्योकि विधार्थियों के माता-पिता, सरक्षक जैसे लोग आज के युग में काम में इतने व्यस्त हो गये है की वे अपने बच्चो के करियर की और ध्यान भी ध्यान नही दे पा रहे है ! क्योकि आज का युग Onlion हो गया है !

 लेकिन कुछ विधार्थियों के अभिभावक आर्थिक समस्या के कारण अभी तक निरक्षर है जो बचपन से ही कभी किताब नही पकड पाए वे सिर्फ अपने संतान को ही पढ़ा पाए और इसलिए समय के साथ-साथ शिक्षा के साधन भी बदल गए है !

राजस्थान सरकार ने आगे बढ़ते हुए और शिक्षा को नई दिशा में ले जाने के लिए 2015 को SHALA DARSHAN और SHALA DARPAN जैसे पोर्टल को शुरू किया है !

1.       शाला दर्शन ( shala darshan ) प्रारम्भिक शिक्षा केलिए !

2.       शाला दर्पण ( shala darpan ) माध्यमिक शिक्षा के लिए !

 

 इन दोनों portals को शुरू करने से बहुत से अध्यापक, बंधुओ को बहुत सी समस्याओं को झेलना पड़ा, क्योकि पहले काम Offline होता था जैसे- उपस्थिति, स्कूल सम्बन्धित डाक भेजना, नामांकन रिपोर्ट, अध्यापक विवरण, पोषाहार रिपोर्ट बनाना आदि काम सरकार ने वर्तमान में Onlion कर दिया है !

और राजस्थान सरकार ने अध्यापको की समस्याओ को गौर करते हुए SHALA DARSHAN को मर्ज कर SHALA DARPAN में सम्मिलित कर दिया है ! अब दोनों पोर्टल का काम एक ही पोर्टल SHALA DARPAN ( शाला दर्पण ) पर शुरू कर दिया है !

 

अब हम शाला दर्पण के बारे में विस्तार से जानेगे !

शाला दर्पण क्या है ? ( SHALA DARPAN KYA HAI )

राजस्थान सरकार का ये एक ऐसा प्रोजेक्ट है जिसे विधार्थी, माता-पिता, अभिभावक, व स्कूल administration और अध्यापक के बीच में संबंध बनाये रखने के लिए, उनसे संपर्क करने के लिए और समय-समय पर अभिभावको दवरा अपने बच्चो का प्रगति रिपोर्ट देखने के लिए और various education services को उन तक पहुचने के लिए Government of India के HRD ( HUMAN RESOURCE DEVELOPMENT ) और NIC ( NATIONAL INFORMATICS CENTRE ) ने जून 2015 को बनाया गया है !

इस पोर्टल के तहत 66 हजार से ज्यादा विधालय को जोड़ा गया है ! इससे 12,00,000 से ज्यादा छात्र उनके माता-पिता और 50,000 अध्यापक को इसका लाभ मिलता है , माता-पिता, अध्यापक,और विधालय administration के अधिकारियो को STUDENT की प्रगति जानने के लिए इस Website बनाई गई है ! शाला दर्शन , शाला दर्पण राजस्थान राज्य के लिए ही सीमित है !

विधार्थी, माता-पिता घर बैठे कंप्यूटर, लैपटॉप, मोबाईल फोन आदि के माध्यम से अपने स्कूल विवरण, अध्यापक विवरण, व अपने बच्चे का विवरण इस पोर्टल के माध्यम से घर बैठे या कही पर भी देख सकते है ! यह सबसे खास plateform बन चुका है !

कौनसी जानकारी ओर मिलती है इस पोर्टल से

Ø  अध्यापक ( TEACHER ) की जानकारी भी इस पोर्टल पर शामिल की जाती है ! जिसमे कार्मिक विवरण, Recruiment , Posting , ट्रांसफर Attendence, payment, pension, आदि को शामिल किया गया है !

Ø  विधार्थी ( STUDENT ) की प्रोफाइल अपडेट की जाती है जैसे- विधार्थी क नामांकन, उप SHALA DARPAN, विधार्थी को मिलने वाली योजना, विधार्थी के अभिभाभावक की जानकारी, स्वास्थ्य सम्बन्धी जानकारी, परीक्षा परिणाम की जानकारी, छात्रवृत्ति की जानकारी आदि सभी जानकारी SHALA DARPAN PORTAL , SHALA DARPAN APP या WEBSITE के माध्यम से दी जाती है ! इसके लिए शाला दर्पण से का कोड दिया गया है सभी स्कूल का, जो सभी स्कूल का कोड अलग-अलग होता है ! जिन स्कूल का विवरण का जानना है उस स्कूल का कोड डालना पड़ता है ! फिर उस स्कूल की जानकारी को एकत्रित किया जा सकता है ! और इसके माध्यम से हम विधालय का विवरण, अध्यापक विवरण. विधार्थी विवरण जान सकते है !

Ø  स्कूल प्रोफाइल ( SCHOOL PROFILE ) में हम विधालय में कार्यरत कार्मिक, स्कूल में उपलब्ध नामांकन, कमरों की संख्या, संस्था प्रधान का नाम, विधालय की स्थिति, संस्था प्रधान की जानकारी व नाम, शौचालय की संख्या, पोषाहार मेनू आदि की जानकारी प्राप्त कर सकते है !

कौनसी सुविधा प्राप्त हो रही है !

SHALA DARPAN APP भी उपलब्ध है ! इससे मोबाईल फोन दवरा Portal Log in कर Internship vacant post list , Teacher  Search, Student Search , School search आदि की जानकारी जैसी सुविधा पोर्टल पर उपलब्ध कर सकते है

निष्कर्ष

DIGITAL INDIA के तरफ राजस्थान सरकार ने अच्छा कदम उठाया है शाला दर्शन व शाला दर्पण की तरह ही भारत के अन्य राज्यों में ऑनलाईन पोर्टल शुरू होना चाहिए जिससे भारत एक डिजिटल इंडिया का निर्माण करने में सहायक हो सकेगा ! वर्तमान युग में सरकारी विधालयो में काम में शिक्षा के प्रति काफी मेहनत रंग लाएगी ! समय की गुणवत्ता में वृद्धि होगी !

में आपसे आशा करता हूँ की मेरे दवारा दी गई जानकारी आप सही प्रकार से समझ पाए होंगे और कोई बात अगर आप को समझा नही पाया हू तो इसके लिए में क्षमा चाहूँगा